प्रत्यंचा

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का देश के किसान भाइयों और बहनों को खुला खत

दिल्ली की सीमाओं पर देश के किसान कृषि कानूनों के खिलाफ लामबंद आंदोलन कर रहे हैं। किसान आंदोलन के शुरुआती दौर से ही मांग कर रहे हैं कि सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस ले। किसानों की मांग को लेकर सरकार ने किसानों को संशोधन का प्रस्ताव दिया था, जिसे ठुकरा दिया गया। पांच दौर की वार्ता विफल रहने के बाद सरकार और किसानों में फिलहाल बातचीत बंद है। देश की राजधानी दिल्ली में कृषि कानूनों के विरोध के बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने देश के किसानों को खत लिखा है। 8 पन्ने के खत में मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों को 8 आश्वासन दिए हैं । देश भर में नया कृषि कानून इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है। पिछले 21 दिनों से अधिक समय से नए कृषि कानून को लेकर दिल्ली में किसान धरने पर हैं। तोमर ने इस पत्र में कहा है कि किसान भाइयों और बहनों को इस कानून को लेकर भ्रम है, जिसे दूर करना मेरा कर्तव्य है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि किसान भाइयों को गुमराह करने, उनमें भ्रम पैदा करने का काम किया जा रहा है।

नरेंद्र सिंह तोमर ने अपने खत में लिखा, मैं किसान परिवार से आता हूं। खेती की बारीकियां और खेती की चुनौतियां दोनों को ही देखते हुए, समझते हुए, मैं बड़ा हुआ हूं। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सभी किसान भाइ और बहन आप विश्वास रखिये, किसानों के हितों में किये गए ये सुधार भारतीय कृषि में नए अध्याय की नींव बनेंगे, देश के किसानों को और स्वतंत्र करेंगे, सशक्त करेंगे। अपने ट्वीटर अकाउंट पर कृषि मंत्री ने कहा सभी किसान भाइयों और बहनों से मेरा आग्रह ! “सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास” के मंत्र पर चलते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में हमारी सरकार ने बिना भेदभाव सभी का हित करने का प्रयास किया है। विगत 6 वर्षों का इतिहास इसका साक्षी है।

पिछले छह साल में हमारी सरकार ने किसानों का मुनाफा बढ़ाने और खेती को आसान बनाने के लिए कई कदम उठाए हैं। इनका फायदा छोटे किसानों को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि कृषि मंत्री के तौर पर मेरे लिए ये बहुत संतोष की बात है कि नए कानून लागू होने के बाद इस बार एमएसपी पर सरकारी खरीद के भी पिछले सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं। ऐसे समय में जब हमारी सरकार एमएसपी पर खरीद के लिए नए रिकॉर्ड बना रही है, खरीद केंद्रों की संख्या बढ़ रही है, कुछ लोग किसानों से झूठ बोल रहे हैं कि एमएसपी बंद कर दी जाएगी। कृषि मंत्री ने किसानों से अपील की वो राजनीतिक स्वार्थ से प्रेरित कुछ लोगों द्धारा फैलाए जा रहे इस सफेद झूठ को पहचानें और सिरे से खारिज करें।

स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों से अपील की है कि कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर जी ने किसान भाई-बहनों को पत्र लिखकर अपनी भावनाएं प्रकट की हैं, एक विनम्र संवाद करने का प्रयास किया है। सभी अन्नदाताओं से मेरा आग्रह है कि वे इसे जरूर पढ़ें। देशवासियों से भी आग्रह है कि वे इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं। वहीं के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं किसान भाइयों को विश्वास दिलाता हूँ कि देश में अगर कोई आपके हितों के बारे में सोचता है और आपकी आय को दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा कर सकता है तो वो सिर्फ और सिर्फ
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी हैं। 60 साल तक आपके अधिकारों को लूटने वाले लोग आपको सिर्फ गुमराह कर रहें। कृषि सुधारों से जुड़ी भ्रांतियों को दूर करने के लिए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर
जी का यह पत्र मोदी सरकार की किसानों के हितों के प्रति समर्पण और संवेदनशीलता को दर्शता है।

pratyancha web desk

प्रत्यंचा दैनिक सांध्यकालीन समाचार पत्र हैं इसका प्रकाशन जबलपुर मध्य प्रदेश से होता हैं. समाचार पत्र 6 वर्षो से प्रकाशित हो रहा हैं , इसके कार्यकारी संपादक अमित द्विवेदी हैं .

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
%d bloggers like this: